राघव जी

श्री अयोध्या धाम के प्रसिद्ध श्री रामकथा के सरस ,संगीतमय प्रवक्ता श्रद्धेय श्री राघव जी महाराज , आपका जन्म उप्र के हरदोई जिला के बिलग्राम तहसील बिरौरी ग्राम परम वन्दनीया माता श्री विद्या देवी तिवारी पिता परम पूज्य पं श्री रामशंकर तिवारी जी के घर जन्म 25 मई1987हुआ को मंगलवार को आप की वचपन की शिच्छा दिच्छा श्री श्री 1008 नैमिष ब्यास पीठाधीश्व जगदाचार्य स्वामी उपेन्द्रानंन्द सरस्वती जी के सानिध्य मे हुआ तत्पश्चात आप श्री रामकथा अध्ययन हेतु अयोध्या धाम पधारे ,वहॉ ग्वालियर मंदिर मे सेठ श्री रामवावरी जी का पावन सानिध्य मिला ,और आप ने बचपन से ही श्री रामकथा गायन प्रारम्भ किया ,

पूरे भारत के कई प्रदेश मे आपकी श्री रामकथा प्रेमयज्ञ “आयोजित होती रहती है ,
जैसे ,उत्तर प्रदेश ,मध्य प्रदेश राजस्थान ,बिहार, झारखण्ड , बंगाल, महाराष्ट्र ,कर्नाटक ,हरियाणा ,,आदि प्रदेश मे आपकी रामकथा गंगा प्रवाहित हो चुकी है ,पूज्य महाराज श्री रामचरित मानस के प्रचार प्रसार मे विशेष योगदान रहता है।